Sunday, December 16, 2018
Home > Chhattisgarh > नान घोटाले मामले में 2 IAS के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी, नोटिस जारी होने के बाद भी नहीं पहुंचे थे कोर्ट..

नान घोटाले मामले में 2 IAS के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी, नोटिस जारी होने के बाद भी नहीं पहुंचे थे कोर्ट..

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बहुचर्चित नान (नागरिक आपूर्ति निगम) घोटाले में एंटी करप्शन ब्यूरो और आर्थिक अपराध ब्यूरो ने बुधवार को दो आईएएस डॉ. आलोक शुक्ला और अनिल टुटेजा के खिलाफ पूरक चालान पेश किया। कोर्ट ने आलोक शुक्ला और अनिल टुटेजा को पेश होने के लिए नोटिस जारी किया था, लेकिन दोनों अधिकारी पेश नहीं हुए। इसके बाद अब दोनों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया गया है। छत्तीसगढ़ के प्रमुख अखबारों ने नान घोटाला मामले में हुई कवायद को फ्रंट पेज पर जगह दी है। इसके अलावा प्रदेश में नक्सल हिंसा की घटना को भी प्रमुखता से लिया गया है।

नान घोटाला मामले में नईदुनिया ने लिखा है कि एसीबी एसपी मनीष शर्मा ने बताया कि कोर्ट में 16 आरोपियों के खिलाफ पांच हजार पेज का चालान पेश किया गया था। आलोक शुक्ला और अनिल टुटेजा के खिलाफ 35 पेज का पूरक चालान पेश किया गया है।

एसीबी के आला अधिकारियों ने बताया कि कोर्ट की ओर से वारंट जारी होने के बाद अब दोनों अधिकारियों की जल्द गिरफ्तारी होगी। नान घोटाले में 294 गवाह बनाए गए हैं। चालान पेश होने के साथ ही अब इनकी गवाही की प्रक्रिया भी शुरू होगी। कुछ दिनों पहले ही कोर्ट ने अनिल टुटेजा की अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया था, जिसके बाद से ही गिरफ्तारी की तलवार लटक गई थी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *