Monday, November 19, 2018
Home > Chhattisgarh > सरकार ने बढ़ाई PPF, NSC और सुकन्या योजना पर ब्याज दरें, अब मिलेगा इतना ज्यादा मुनाफा

सरकार ने बढ़ाई PPF, NSC और सुकन्या योजना पर ब्याज दरें, अब मिलेगा इतना ज्यादा मुनाफा

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने छोटे निवेशकों को बड़ी राहत देते हुए सभी तरह की सेविंग डिपॉजिट स्कीमों पर मिलने वाले ब्याज को बढ़ा दिया है। छोटी बचत पर ब्याज दरें 1 अक्टूबर से लागू होंगी। एक से तीन साल के समय की छोटी बचत के डिपॉजिट पर ब्याज दर में 30 बेसिस पॉइंट की बढ़ोतरी और 5 साल की छोटी बचत के डिपॉजिट पर ब्याज दर में 40 बेसिस पॉइंट की बढ़ोतरी।

पहले से 0.40 फीसदी अधिक ब्याज मिलेगा

विभिन्न स्मॉल सेविंग स्कीमों जैसे PPF, किसान विकास पत्र, सुकन्या समृद्धि अकाउंट आदि पर पहले से 0.40 फीसदी तक अधिक ब्याज मिलेगा। वित्तमंत्री ने जारी अधिसूचना में कहा कि वित्त वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही के लिए विभिन्न लघु बचत योजनाओं की ब्याज दरें संशोधित की जाती हैं।

पीपीएफ में ब्याज दरों को 7.6 फीसदी से बढ़ाकर 8 फीसदी कर दिया गया सरकार की ओर से PPF पर मिलने वाली ब्याज दरों को 7.6 फीसदी से बढ़ाकर 8 फीसदी कर दिया गया है। इसके अलावा, किसान विकास पत्र पर मिलने वाली ब्याज दर 7.3 फीसदी (118 माह में परिपक्व होने वाली) से बढ़ाकर 7.7 फीसदी (112 माह में परिपक्व होने वाली) कर दी गई है। इसी तरह, सुकन्या समृद्धि अकाउंट स्कीम पर मिलने वाला सालाना ब्याज 8.1 फीसदी से बढ़कर 8.5 फीसदी हो गया है। एक से तीन साल की सावधि जमा पर ब्याज दर में 0.3 प्रतिशत की वृद्धि की गयी है।

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना‘ की शुरुआत

वहीं मोदी सरकार ने बुधवार को नौकरीपेशा लोगों के लिए एक अहम योजना का आरंभ किया । इस योजना के तहत नौकरी गंवा देने की स्थिति में भी व्यक्ति को आर्थिक मदद मिलेगी। यह मदद दूसरी नौकरी या रोजगार की तलाश के दौरान मिलेगी। इसका लाभ कर्मचारी राज्य बीमा निगम( (ईएसआईसी) सुविधा वाले कर्मचारियों को ही मिलेगी। कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी) ने बुधवार को इस नई योजना को मंजूरी दी। सरकार ने इस योजना नाम ‘अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना’ रखा है।

नौकरी जाने की स्थिति में सरकार कर्मचारियों को देगी आर्थिक मदद

इस योजना के मुताबिक अगर कोई कर्मचारी ईएसआईसी योजना के तहत रजिस्टर है, तो उसे इस योजना का फायदा मिलेगा। यह योजना बेरोजगारी एवं नई नौकरी की खोज की स्थिति में उनके बैंक खाते में सीधे भुगतान किये जाने वाले नकदी के रूप में मिलने वाली राहत है। यह पैसा सीधे उनके खाते में क्रेडिट किया जाएगा। मंत्रालय ने बताया कि इस सुविधा का फायदा कोई कर्मचारी कैसे उठा सकेगा। इसके लिए जल्द ही एप्ल‍िकेशन फॉर्मेट और योग्यता के नियम जारी किए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *