Monday, November 19, 2018
Home > Chhattisgarh > नेताजी सुभाष मल्टीपरप्स स्टेडियम का निर्माण मई तक होगा पूरा, मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने बॉस्केटबॉल, व्हालीबाल और बैडमिंटन कोर्ट बनाने के दिए निर्देश

नेताजी सुभाष मल्टीपरप्स स्टेडियम का निर्माण मई तक होगा पूरा, मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने बॉस्केटबॉल, व्हालीबाल और बैडमिंटन कोर्ट बनाने के दिए निर्देश

brijmohan agrawal minister cabinet chhhattisgarh

रायपुर। निर्माणाधीन नेताजी सुभाष मल्टीपरप्स स्टेडियम का निरीक्षण करने कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल राजधानी रायपुर के मोतीबाग पहुंचे। वहीं मंत्री अग्रवाल ने निर्धारित समय तक स्टेडियम का काम पूरा करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। अधिकारियों ने बताया कि भव्य और आधुनिक सुविधायुक्त नेताजी सुभाष मल्टीपरप्स स्टेडियम का निर्माण मई 2018 तक पूरा हो जाएगा। वर्तमान में स्टेडियम का निर्माण तेजी से चल रहा है।

इस दौरान कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने नरहरेश्वर तालाब सौंदर्यीकरण, सिद्धार्थ चौक से पचपेड़ी नाका चौक तक सड़क डामरीकरण और सौंदर्यीकरण, महाराजबंद तालाब सौंदर्यीकरण तथा मरवाड़ी श्मशान घाट में किए जा रहे निर्माण कार्यों का भी अवलोकन किया। छत्तीसगढ़ श्रम कल्याण मंडल के उपाध्यक्ष सुभाष तिवारी, नगर निगम रायपुर के जोन क्रमांक-6 के अध्यक्ष सालिक सिंह ठाकुर, रायपुर कलेक्टर ओ.पी. चौधरी सहित नगर निगम रायपुर, लोक निर्माण विभाग, वन विभाग और अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।

नेताजी सुभाष स्टेडियम में बॉस्केट बाल, बॉलीबाल और बैडमिंटन कोर्ट भी बनाने के निर्देश

कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने सबसे पहले निर्माणाधीन नेताजी सुभाष स्टेडियम का निरीक्षण किया। उन्होंने मुख्य हॉकी मैदान को देखने के बाद प्रोफेसर जे.एन. पाण्डेय शासकीय बहुउद्देश्यीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के मुख्य गेट की ओर स्टेडियम में बॉस्केटबॉल, व्हालीबाल और बैडमिंटन कोर्ट बनाने के निर्देश दिए। मंत्री अग्रवाल ने इसी ओर एक बड़े और एक छोटे गेट भी बनाने की जरूरत पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि यह स्टेडियम शहर के बीच में है। इसका सालभर उपयोग होना चाहिए। मंत्री अग्रवाल ने अधिकारियों से स्टेडियम के लिए पार्किंग व्यवस्था आदि की भी जानकारी ली और मोती बाग के सामने की ओर भी मेनगेट के साथ एक छोटा गेट बनाने के लिए कहा। उन्होंने दोनों छोटे गेट में रिवाल्विंग डोर लगाने के निर्देश दिए।

दो मंजिला बनेगा स्टेडियम का मुख्य भवन: विभिन्न खेलों की प्रेक्टिस की होगी सुविधा

इस अवसर पर अधिकारियों ने बताया कि नेताजी सुभाष मल्टीपरप्स स्टेडियम का मुख्य भवन दो मंजिला होगा। यह स्टेडियम मुख्य रूप से हॉकी के लिए बनाया जा रहा है। हॉकी मैदान 75 हजार वर्ग फुट में बनेगा। यह घासवाला मैदान होगा। इसमें स्प्रिंकलर भी लगाई जाएगी। मुख्य भवन के ग्राउण्ड फ्लोर में जूडो, कराते, टेबल टेनिस, कुश्ती, जिम और वेट लिफ्टिंग की प्रेक्टिस की सुविधा खिलाड़ियों को मिलेगी। फस्ट फ्लोर में शूटिंग, फेंसिंग, ताईक्वांडो और चेस जैसे खेलों की प्रेक्टिस के लिए जरूरी व्यवस्था की जा रही है। दूसरे तल में डारमेट्री की होगी, जहां 168 बच्चे ठहर सकेंगे हैं। स्टेडियम के दाएं और बाएं हिस्से में तीसरी मंजिल का निर्माण किया जा रहा है, जहां बॉक्सिंग के लिए बड़ा हाल बनेगा। ग्राउण्ड फ्लोर पर किड्स जोन रहेगा, जहां छोटे बच्चों के खेलने की व्यवस्था रहेगी।

नरहरेश्वर तालाब का सौंदर्यीकरण

कृषि मंत्री अग्रवाल ने नरहरेश्वर तालाब सौंदर्यीकरण तथा सिद्धार्थ चौक से पचपेड़ी नाका चौक तक सड़क डामरीकरण और सौंदर्यीकरण कार्य का अवलोकन भी किया। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को इन निर्माण कार्यों के संबंध में जरूरी निर्देश दिए। सिद्धार्थ चौक से पचपेड़ी नाका चौक तक सड़क में झूमर लाइट लगाने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

मरवाड़ी श्मशान घाट के बाजू में पार्किंग बनाने की तैयारी

कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने मरवाड़ी श्मशान घाट में चल रहे निर्माण कार्यों तथा पार्किंग निर्माण का निरीक्षण भी किया। श्मशान घाट के बाजू में खाली जमीन पर पार्किंग बनाई जा रही है, ताकि श्मशान घाट में आने वाले लोगों के वाहनों को खड़ा करने की समुचित व्यवस्था हो सके। इससे बूढ़ातालाब मार्ग पर यातायात सुगम हो सकेगा। मंत्री अग्रवाल ने पार्किंग स्थल पर पेवर ब्लॉक लगाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि पार्किंग बन जाने से वहां पर वर्षों पहले बनाए गए सामुदायिक भवन का भी उपयोग होगा।

महाराजबंद तालाब के सौंदर्यीकरण के लिए सात करोड़ रूपए मंजूर

बृजमोहन अग्रवाल ने महाराजबंद तालाब के सौंदर्यीकरण कार्य का भी अवलोकन किया। इसके लिए सात करोड़ रूपए मंजूर किए गए हैं। उन्होंने ने योजना के तहत सबसे पहले तालाब के चारों तरफ पाथ-वे बनाकर लाईटिंग की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। शहर के विभिन्न क्षेत्रों के गंदा पानी को तालाब में जाने से रोकने के लिए किनारे-किनारे तीन तरफ नालियां बनाई जा रही है। इन्हीं नालियों के ऊपर तीन तरफ पाथ-वे बनाए जाएंगे। चौथे तरफ पटेल शिशुमंदिर से कुकरीपारा तक मुख्य मार्ग बना हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *